home page

गठबंधन सरकार की पोर्टलबाजी आमजन पर पड़ने लगी भारी : कुमारी सैलजा

 | 
गठबंधन सरकार की पोर्टलबाजी आमजन पर पड़ने लगी भारी : कुमारी सैलजा

चंडीगढ़।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी की महासचिव एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी सैलजा ने कहा कि भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार की पोर्टलबाजी अब आमजन पर भारी पड़नी शुरू हो गई है। नगर निकाय विभाग के पोर्टल से 65 हजार नक्शों का रिकॉर्ड गायब होना इस बात का प्रमाण है कि पोर्टल पर कुछ भी सुरक्षित नहीं है। नक्शों का रिकॉर्ड गायब होने से अधिकारी, इंजीनियर के साथ ही आम लोग भी परेशान हैं। लेकिन, सरकार मुसीबत बन चुके इन पोर्टल को सिर्फ कमीशनखोरी के चक्कर में बढ़ावा देने में जुटी है।

मीडिया को जारी बयान में कुमारी सैलजा ने कहा कि नगर निकाय विभाग में नक्शे पास करने का सिस्टम गठबंधन सरकार ने ऑनलाइन किया था। प्लाट मालिक पोर्टल पर नक्शे अपलोड करते थे और उनकी संभाल निजी डिवलेपर द्वारा की जाती थी। लेकिन, जिन लोगों के नक्शे पास हो चुके या फिर जिन्होंने पास कराने के लिए अप्लाई किया हुआ है, वह रिकॉर्ड पोर्टल से गायब हो गया है। ऐसे में इस संभावना से कतई इंकार नहीं किया जा सकता कि कहीं पोर्टल हो हैक न कर लिया गया हो। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार की इस गलती का खामियाजा अब लोगों को भुगतना पड़ रहा है। जिन लोगों के नक्शे पास हो चुके और उन्हें मकान बनाने के लिए लोन लेना था, उन्हें नक्शा न होने के कारण मिल नहीं रहा है। क्योंकि, नगर निकाय विभाग के इंजीनियर रिकॉर्ड से मिलान कर इनकी वेरिफिकेशन ही नहीं कर पा रहे हैं। इनके साथ ही एनओसी लेने वालों को भी खाली हाथ ही लौटना पड़ता है।

कुमारी सैलजा ने कहा कि यह पहला मौका नहीं है, जब हरियाणा सरकार के किसी पोर्टल में सेंध लगी है। इससे पहले बिजली निगमों के उपभोक्ताओं को सारा डेटा चोरी हो गया था। बाकायदा हैकर ने लोगों को मैसेज कर उनके बैंक खाते खाली करने भी शुरू कर दिए थे। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसी तरह जमाबंदी की साइट और रजिस्ट्री वाले पोर्टल में भी सेंध लगाई जा चुकी है। यहां से लोगों के फिंगर प्रिंट उठाकर उनकी क्लोनिंग से बैंक खाते खाली कर लिए गए थे। इस तरह के मामले सामने आने के बाद भी प्रदेश सरकार पोर्टल-पोर्टल चिल्लाने में लगी है। इससे साफ है कि पोर्टल की आड़ में कमीशनखोरी का बड़ा खेल चल रहा है और यह बात प्रदेश के लोग भी बखूबी समझने लगे हैं।