home page

अडानी को लगा एक और झटका, हिंडनबर्ग में नाम आने के बाद ऑडिटर ने दिया इस्तीफा

 | 
अडानी को लगा एक और झटका, हिंडनबर्ग में नाम आने के बाद ऑडिटर ने दिया इस्तीफा


अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी को एक और झटका लग गया है. इस बार ये झटका ग्रुप कंपनी अडानी टोटल गैस की ओर से आया है. वास्तव में कंपनी का ऑडिटिंग का संभाल रही कंपनी ने ग्रुप से रिजाइन कर दिया है. गुजरात के अहमदाबाद की ऑडिटिंग कंपनी ने ज्यादा बिजी होने के हवाला देते हुए अडानी टोटल गैस से अपने आपको अलग किया है. इस बार में अडानी टोटल गैस ने शेयर बाजार को जानकारी दे दी है. अडानी टोटल ने कहा कि मैसर्स शाह धंधरिया एंड कंपनी ऑडिटिंग का काम संभाल रही थी, जिसने रिजाइन कर दिया है तो 2 मई से लागू हो चुका है.

रिपोर्ट में उठे थे सवाल
खास बात तो ये है अमेरिकी शॉर्ट सेलर हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट में इस ऑडिटिंग कंपनी का जिक्र हुआ था. उस समय में रिपोर्ट में आरोप लगाया गया था कि अडानी टोटल गैस जैसी बड़ी कंपनी का ऑडिटिंग काम इनती छोटी फर्म को कैसे दिया जा सकता है? हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट में कहा गया था कि शाह धंधरिया एंड कंपनी के पास अपडेटिड वेबसाइट तक नहीं है. वेबसाइट के पुराने पेजों के अनुसार ऑडिटिंग फर्म को चार पार्टनर और 11 इंप्लॉई रन कर रहे हैं. अडानी टोटल गैस के अलावा ऑडिटर के पास एक और लिस्टिंग कंपनी का काम है, जिसका मार्केट कैप 65 से भी कम है.